• हिन्दुस्तानी एकेडेमी के गौरवमय  क्षण
  • हिन्दुस्तानी एकेडेमी के गौरवमय  क्षण
  • हिन्दुस्तानी एकेडेमी के गौरवमय  क्षण
  • हिन्दुस्तानी एकेडेमी के गौरवमय  क्षण
  • हिन्दुस्तानी एकेडेमी के गौरवमय  क्षण
  • हिन्दुस्तानी एकेडेमी के गौरवमय  क्षण
  • हिन्दुस्तानी एकेडेमी के गौरवमय  क्षण
  • हिन्दुस्तानी एकेडेमी के गौरवमय  क्षण
  • हिन्दुस्तानी एकेडेमी के गौरवमय  क्षण
  • हिन्दुस्तानी एकेडेमी के गौरवमय  क्षण
gallery-img8
wowslider by WOWSlider.com v8.7

पुरस्कार नियमावली पुरस्कार योजना 2019, अंतिम तिथि 02 मार्च 2020-यहाँ से डाउनलोड करें।

♦♦♦ हिंदुस्तानी एकेडेमी आपका स्वागत करती है ♦♦♦

हिन्दुस्तानी एकेडेमी एक प्रतिष्ठित हिन्दुस्तानी सेवी संस्था है जिसकी स्थापना सन १९२७ में हुई थी। इसका मुख्यालय प्रयागराज में स्थित है। हिन्दी व उसकी सहयोगी भाषाओं को समृद्ध व लोकप्रिय बनाने में एकेडेमी का योगदान अविस्मरणीय है। राष्ट्रभाषा को विश्व की प्रमुख भाषाओं के समकक्ष बैठाना और उसकी सर्वांगीण उन्नति ही एकेडेमी का संकल्प है। इस संकल्प को पूरा करने में एकेडेमी का आदर्श वाक्य भवभूति के उत्तररामचरितम्‍ से लिया गया है। यह है - विन्देम देवतां वाचम् ‍; अर्थात् हम देवताओं की वाणी प्राप्त करें।


डॉ उदय प्रताप सिंह
अध्यक्ष
सन्देश

अजय कुमार सिंह
सचिव
सन्देश

पायल सिंह
कोषाध्यक्ष
सन्देश

♦♦♦हमारे प्रकाशन♦♦♦

अन्य महत्वपूर्ण विशेषांक

उद्देश्य एवं कार्य

1. राजभाषा हिन्दी, उसके साहित्य तथा ऐसे अन्य रूपों एवं शैलियों (जैसे उर्दू, ब्रजभाषा, अवधी, भोजपुरी आदि) का परिरक्षण, संबर्द्धन और विकास करना, जिससे हिन्दी समृद्ध हो सकती है।
2. हिन्दीतर भारतीय भाषाओं तथा विदेशी भाषाओं की साहित्यिक कृतियों का हिन्दी में अनुवाद कराना।
3. मौलिक हिन्दी कृतियों, सृजनात्मक साहित्य का प्रोत्साहन एवं प्रकाशन।
4. राज्य सरकार की सहमति से हिन्दी में सन्दर्भ ग्रन्थ तैयार कराना तथा उनका प्रकाशन।